हरिद्वार /धर्मनगरी में होने वाली धर्म संसद को अभी चुनाव आयोग के आग्रह पर स्थगित कर  कर दिया गया हें उक्त जानकारी धर्म संसद कोर कमेटी के अध्यक्ष महामंडलेश्वर प्रबोधानंद गिरी ने देते हुए कहा हें की जिन राज्यों में अभी चुनाव हो रहे हैं वहां फिलहाल धर्म संसद स्थगित कर दिया गया हैं।उन्होंने बताया की चुनाव आयोग के आग्रह पर कोर कमेटी ने यह निर्णय लिया है। क्योंकि प्रयागराज में माघ मेला है इसलिए वहां पंडाल के अंदर संत सम्मेलन आयोजित किया जाएगा।

प्रबोधानंद गिरी ने कहा कि देश के अन्य राज्यों में धर्म संसद आयोजित कराने को लेकर राज्य संयोजक नियुक्त कर दिए गए हैं। राज्य संयोजक अपने-अपने राज्य में धर्म संसद को लेकर तिथि निर्धारित करेंगे। उन्होंने कहा कि धर्म संसद को लेकर अंतिम फैसला कोर कमेटी का ही रहेगा। 17 से 19 दिसंबर तक हरिद्वार में चली तीन दिवसीय धर्म संसद के विषय में देश के साथ विदेश में भी चर्चाओं में है। धर्म संसद कोर कमेटी के दो सदस्यों को गिरफ्तार भी किया जा चुका है। कोर कमेटी अब प्रस्तावित धर्म संसद मामले में फूंक-फूंक कर कदम उठा रही है।

जिन राज्यों में चुनाव हो रहे हैं, वहां चुनाव आयोग से किसी भी बैठक के लिए अनुमति जरूरी है। बगैर अनुमति धरना देने के मामले में हरिद्वार पुलिस पहले ही पांच संतों पर चुनाव आचार संहिता के उल्लंघन के मामले में कार्येवाही कर चुकी है।इसी लिए अभी धर्मनगरी में होने वाली धर्म संसद को अभी चुनाव आयोग के आग्रह पर स्थगित कर दिया गया है।

error: Content is protected !!